Lata Mangeshkar death: आखिर क्यों लता मंगेशकर की मौत से सदमे में है पूरा हिंदुस्तान

Lata Mangeshkar death

बॉलीवुड में जब भी कोई बड़े कलाकार की मृत्यु होती है या फिर उनकी तबीयत खराब होती है तो उनके चाहने वाले भारतीय दर्शक हो या दुनिया भर के उनके फैन उनकी खबरों को जानने के लिए काफी परेशान हो जाते हैं। उनकी स्वास्थ्य की चिंता लोगों को सताने लगती है। बॉलीवुड की मशहूर गायिका और स्वर कोकिला के नाम से विख्यात लता मंगेशकर की अचानक निधन हो जाने से पूरा भारत सदमे में है। वह पिछले कुछ समय से अस्पताल में भर्ती थी, सूत्रों से मिली खबर के मुताबिक वह आखरी समय में वेंटिलेटर पर थी और वहीं उनका स्वास्थ्य बिगड़ा। अब वह हमारे बीच नहीं है।

Lata Mangeshkar death – आखिर क्यों लता मंगेशकर की यादें है अनमोल

28 सितंबर 1929 को जन्मी 92 वर्षीय पार्श्व गायिका लता मंगेशकर ने बॉलीवुड के साथ ही मराठी गानों में भी अपनी आवाज दी है। लता मंगेशकर आज दुनिया भर में अपने मधुर आवाज के लिए पहचानी जाती है इतनी ज्यादा उम्र होने के बाद भी लता मंगेशकर की आवाज कोयल की तरह मीठी है, इसीलिए उन्हें स्वर कोकिला के नाम से पहचाना जाता है। लता मंगेशकर ने बॉलीवुड के कई गानों में अपनी मधुर आवाज का जादू बिखेरा है।

इतने सारे अवार्ड से सम्मानित किया गया है लता मंगेशकर को

लता मंगेशकर को अपने बेहतरीन गायकी के लिए भारत के सबसे सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न से 2001 में सम्मानित किया गया था, इसके अलावा लता मंगेशकर ने फिल्म फेयर के कई अवार्ड भी जीते हैं। लता मंगेशकर को दादा साहब फाल्के पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया है इसके अलावा लता मंगेशकर को संगीत के क्षेत्र में और भी कई बड़े पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।

इंदौर में जन्मी लता मंगेशकर ने मात्र 13 साल की उम्र में अपने पिता की अचानक मृत्यु के बाद परिवार संभालने के लिए बंगाली फिल्मों में गाना शुरू किया और उन्होंने अपने शुरुआती दिनों में कई मशहूर बंगाली गानों में आवाज दिया। बंगाली फिल्मों में अच्छी गायिकी के बाद लता मंगेशकर को उनके बेहतरीन आवाज के कारण बॉलीवुड में भी मौका मिला और उसके बाद उन्होंने बॉलीवुड के हजारों गानों में अपना आवाज दिया है। लता मंगेशकर आब 92 साल की हो गई है और वह अब प्लेबैक सिंगर के रूप में गाना तो नहीं गाती है लेकिन वह एक अच्छी म्यूजिक डायरेक्टर है।

लता मंगेशकर ने अपने जमाने में बॉलीवुड के कई ऐसे सुपरहिट गानों में अपना आवाज दिया है जो आज भी लोगों के बीच मशहूर है और लता मंगेशकर को उनकी मीठी आवाज के लिए भारत ही नहीं पूरी दुनिया भर में पहचाना जाता है। लता मंगेशकर ने बॉलीवुड की हजारों गानों में गाने तो गाए हैं लेकिन वह हिंदी फिल्मों के अलावा दुनिया भर के लगभग 36 भाषाओं में गाना गा चुके हैं। लता मंगेशकर को उनके आवाज के कारण दुनिया भर के कई भाषाओं में गीत गाने का मौका दिया गया उन्होंने विदेशी भाषाओं में भी कई गीत गाए हैं जो कि काफी पसंद किए जाते हैं।

लता मंगेशकर को पद्म विभूषण सम्मान से भी नवाजा गया है यह भारत के एक सम्मानित व्यक्ति को दिया जाने वाला सर्वोच्च सम्मान है। लता मंगेशकर के अलावा भारत रत्न का पुरस्कार भारत के कई बड़े हस्तियों ने प्राप्त किया है लेकिन संगीत के क्षेत्र में भारत रत्न का पुरस्कार पाने वाली लता मंगेशकर पहली महिला गायिका है।

लता मंगेशकर जनवरी 2022 की शुरुआत से ही तबीयत खराब होने के कारण मुंबई के एक अस्पताल में भर्ती किया गया था। और समय-समय पर उनके स्वास्थ्य को लेकर अफवाहें आती रहीं लेकिन अब उनकी मृत्यु हो चुकी है। लता मंगेशकर ने संगीत की दुनिया में एक ऐसा जादू बिखेरा है कि उनके बिना बॉलीवुड की गायिकी अधूरी है। उनकी आवाज के बिना बॉलीवुड का संगीत पूरा नहीं होता था।

वैसे दुनिया भर के फैन लता मंगेशकर की मृत्यु से काफी चिंतित है। दोस्तों आपको लता मंगेशकर की आवाज और उनके गाने कैसे लगते हैं हमें जरूर बताइएगा। लता मंगेशकर के बारे में आने वाले अपडेट के लिए हम से जुड़े रहिए।

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: