बॉलीवुड का पहला गाना जिसमें सरगम और डिस्को का कॉन्बिनेशन है, अमिताभ बच्चन अपने परफॉर्मेंस के साथ दिखाने में लगा दिए थे चार चांद

अमिताभ बच्चन बॉलीवुड के एक काफी बड़े कलाकार हैं। जिन्होंने कई सारे फिल्मों में एक्टिंग की हुई है, लेकिन इनकी एक फिल्म का गाना काफी ज्यादा यादगार है। क्योंकि यह बॉलीवुड का एक ऐसा पहला गाना था जिसमें क्लासिकल के साथ-साथ डिस्को का कॉन्बिनेशन डाला गया था। 12 मिनट के इस गाने को गाने के लिए किशोर कुमार बहुत मुश्किल से राजी हुए थे। आगे हम इस गाने के बारे में और भी डिटेल में बात करने जा रहे हैं।

फिल्म नमक हलाल का है यह गाना।

अमिताभ बच्चन और शशि कपूर स्टारर फिल्म नमक हलाल के बारे में अगर हम बात करें तो यह फिल्म काफी ज्यादा लोगों द्वारा पसंद की गई। इस फिल्म में अमिताभ बच्चन और शशि कपूर जी ने कमाल की एक्टिंग दिखाई है। इस फिल्म का एक गाना काफी ज्यादा फेमस है। क्योंकि यह बॉलीवुड का एक ऐसा गाना है जिसमें एक साथ सरगम और डिस्को का कॉमिनेशन डाला गया है। और हम बात कर रहे हैं पग घुंघरू बांध मीरा नाची थी गाने की।

बॉलीवुड का पहला गाना जिसमें सरगम और डिस्को का कॉन्बिनेशन है, अमिताभ बच्चन अपने परफॉर्मेंस के साथ दिखाने में लगा दिए थे चार चांद।

गाने में बप्पी लहरी की मां की भी थी भूमिका।

बप्पी लहरी बॉलीवुड के काफी जाने वाले म्यूजिशियन हैं। जिन्होंने कई सारे गाने दिए है। इन्हें अलग-अलग भाषाओं में भी कई सारे गाने बनाए हैं, लेकिन इस गाने की खास बात यह है कि इस गाने में बप्पी लहरी के साथ-साथ उनकी मां की भी भूमिका है। जिन्होंने इस गाने को बनाने में बप्पी लहरी के काफी ज्यादा मदद किया है। हम आगे बात करने जा रहे हैं किस तरीके से बप्पी लहरी की मां ने इस गाने को तैयार करने में मदद की।

बॉलीवुड का पहला गाना जिसमें सरगम और डिस्को का कॉन्बिनेशन है, अमिताभ बच्चन अपने परफॉर्मेंस के साथ दिखाने में लगा दिए थे चार चांद

कॉमिनेशन तैयार हुआ था बप्पी लहरी की मां की मदद से।

बप्पी लहरी जी की मां के बारे में अगर हम बात करें तो वह काफी जानी-मानी क्लासिकल सिंगर है उनके गाने के भी काफी ज्यादा फैन हुआ करते थे। इस गाने को प्रकाश मेहरा और अंजन ने मिलकर लिखा था। इस गाने के बोल को लिखने के बाद वे दोनों इस के म्यूजिक को तैयार करने के लिए गाने को बप्पी लहरी के पास गए। बप्पी लहरी की मां एक बहुत ही अच्छी क्लासिकल सिंगर है। जिन्होंने इस गाने को क्लासिकल अंदाज में गाया है। जिसमें बप्पी लहरी ने डिस्को डाल दिया। पर यह गाना फिल्म के मेकर्स को काफी ज्यादा पसंद आया। और यह इस तरीके का पहला गाना बना जिसमें डिस्को और सरगम दोनों कंबीनेशन देखने को मिला।

किशोर कुमार ने गाया यह गाना।

नमक हलाल के इस गाने को किशोर कुमार ने गाया था। जब गाने के बोल और म्यूजिक को तैयार करके किशोर कुमार के पास ले जाया गया तो किशोर कुमार ने शुरुआत में इस गाने को गाने से इनकार कर दिया। क्योंकि यह गाना 12 मिनट का था और इसे गाना कोई आम बात नहीं थी। फिर किशोर कुमार इस गाने को गाने के लिए तैयार हो गए और आगे चलकर जो किशोर कुमार ने इस गाने को गाया तो लोगों ने इस गाने को काफी ज्यादा पसंद किया। और यह आज भी काफी ज्यादा पॉपुलर है।

बॉलीवुड का पहला गाना जिसमें सरगम और डिस्को का कॉन्बिनेशन है, अमिताभ बच्चन अपने परफॉर्मेंस के साथ दिखाने में लगा दिए थे चार चांद

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: