ऊर्फी जावेद पर बात किया चेतन भगत ने, साथ ही साथ आज के युवाओं को दी सलाह

ऊर्फी जावेद के बारे में अगर बात करें तो आज वह अपनी एक्टिंग से ज्यादा अपनी ड्रेसिंग की वजह से ज्यादा फेमस है। लोग उनके कपड़ों के वजह से उन्हें काफी ज्यादा देखते हैं। कुछ लोग उनको ट्रोल करते हैं तो कुछ लोग उनको पसंद भी करते हैं। ऊर्फी जावेद पर जाने माने साहित्यकार ने अपनी बात रखी है। और युवाओं को एक नई सलाह देते हुए कई सारी बातें भी बताइ है। जिसके बारे में हम बात करने जा रहे हैं।

चेतन भगत ने आज के युवाओं पर की बात।

चेतन भगत साहित्य की दुनिया का एक बहुत बड़ा नाम है। जिनकी फैन फॉलोइंग काफी जगह बड़ी है। उनकी किताबों को लोग पढ़ना काफी ज्यादा पसंद करते हैं। और उनकी बात भी लोगों को पसंद भी आती है। ऐसे में उन्होंने आज के युवाओं पर बात करते हुए कहा कि आज डाटा और इंटरनेट काफी ज्यादा उपलब्ध है। इसका फायदा उठाने की जगह गलत इस्तेमाल हो रहा है। आज वह किताब ना पढ़कर कुछ और कर रहे हैं। जो हमारे पीढ़ी को कमजोर बना रहा है।

ऊर्फी जावेद पर बात किया चेतन भगत ने, साथ ही साथ आज के युवाओं को दी सलाह

ऊर्फी जावेद पर की बात।

चेतन भगत ने उर्फी जावेद के बारे में बात करते हुए बताया कि आजकल ऊर्फी जावेद की फैन फॉलोइंग काफी ज्यादा बढ़ती जा रही है। लोग उनकी फोटो को देखना चाहते है जिसे काफी ज्यादा पसंद कर रहे हैं। हमारी युवा बिस्तर में घुसकर उनकी तस्वीरें बहुत ज्यादा देखते हैं। साथ-साथ लाइक भी करते हैं। इस बारे में उन्होंने कहा कि इस मामले में उर्फी जावेद की कोई भी गलती नहीं है। वह तो अपने करियर को सिक्योर कर रही है, लेकिन हमारे युवा रास्ता भटक चुके हैं।

ऊर्फी जावेद पर बात किया चेतन भगत ने, साथ ही साथ आज के युवाओं को दी सलाह

एक ओटीटी प्लेटफॉर्म को भी लिया निशाने पर।

चेतन भगत ने उल्लू टीवी पर भी अपनी बात रखी है। क्योंकि इस प्लेटफार्म के बारे में जैसा कि हम सभी जानते हैं कि इस पर सिर्फ अश्लील कांटेक्ट दिखाए जाते हैं। इसके साथ ही साथ उन्होंने बताया कि जिस उम्र में पढ़ाई लिखाई करनी चाहिए थी। उस समय में लोग लड़कियों के पीछे लग जाते हैं। और इस चक्कर में हमारी पीढ़ी दिन प्रतिदिन काफी ज्यादा कमजोर और पिछड़ा हुआ होता जा रहा है। उन्होंने इस विषय पर काफी ज्यादा चिंता भी व्यक्त की है।

मोबाइल की लत लग चुकी है लोगों को।

चेतन भगत ने कहा कि हमारे युवाओं को मोबाइल की आदत लग चुकी है। पढ़ना एक पॉजिटिव हैबिट है। जो आपके ध्यान में वृद्धि करता है। और आपको काफी तरीके से मदद भी करता है। ऐसे में लोग पढ़ना छोड़ कर के दिन भर मोबाइल में लगे रहते हैं। यह एक बुरी आदत है इस बारे में भी चेतन भगत ने काफी ज्यादा चिंता जाहिर की है। और आने वाले पीढ़ी के लिए काफी ज्यादा चिंतित वह अपने भाव से दिखाई दिए है। उन्होंने इन सारे विषयों पर खुलकर बात की।

ऊर्फी जावेद पर बात किया चेतन भगत ने, साथ ही साथ आज के युवाओं को दी सलाह

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: