आखिरी समय में सब ने साथ छोड़ दिया इनका, एक के पास अंतिम संस्कार के वक्त केवल 4 लोग थे

sadashiv amrapurkar

बॉलीवुड में नाम बनाना कोई आसान बात नहीं है। लाखों-करोड़ों लोग कई सपने लेकर इस महानगरी में आते हैं और जी जान लगा देते हैं पर इनमें से किन्ही को ही सफलता मिल पाती है और कुछ निराश होकर चले जाते हैं। पर इनमें से कई ऐसे कलाकार होते हैं जो अपने अदाकारी के दम पर बॉलीवुड में अपनी अलग पहचान बनाते हैं पर इन कलाकार को अंतिम समय में जो सम्मान मिलना चाहिए वह नहीं मिल पाता है। आज हम आपको इस लिस्ट में ऐसे ही कुछ कलाकारों से मिलाने वाले हैं जिन्होंने बड़े पर्दे पर अपनी अदाकारी के द्वारा तो नाम बनाएं पर मौत के बाद वे गुमनाम हो गए और आज तक उन्हें कोई सम्मान भी नहीं मिला…

परवीन बॉबी

पुराने समय की सबसे मशहूर अभिनेत्री में से एक परवीन बॉबी जिनकी खूबसूरती का दीवाना हर कोई था। परवीन ने कई मशहूर फिल्म जैसे ‘दीवाना’, ‘अमर अकबर एंथनी’, ‘शान’, ‘कालिया’, ‘काला सोना’ और ‘रंगीला रतन’ जैसी फिल्मों में काम किया है। पर साल 2005 में परवीन बॉबी की जब मृत्यु हुई थी तो यह मौत कोई आम मौत नहीं थी परवीन बॉबी की डेड बॉडी संदिग्ध परिस्थितियों में पाई गई थी। मृत्यु के 3 दिन बाद उनकी डेड बॉडी उनके फ्लैट से मिली थी। परवीन के मरने का कारण मानसिक अस्वस्थता बताई गई थी। डॉक्टर का कहना था कि इनके शरीर में अनाज का एक भी दाना नहीं मौजूद था और कई दिनों से यह भूखी भी थी।

सदाशिव अमरापुरकर

सदाशिव अमरापुरकर को बॉलीवुड की मशहूर खलनायक के रूप में जाना जाता है। उन्होंने बॉलीवुड की कई फिल्म में खलनायक का किरदार निभाया था। बता दे साल 1991 में रिलीज फिल्म ‘सड़क’ के लिए इस एक्टर को बेस्ट विलन कैटेगरी के लिए फिल्म फेयर पुरस्कार से सम्मानित भी किया गया था। सदाशिव अमरापुरकर विलेन और कॉमेडी दोनों कैरेक्टर को ही काफी बेहतरीन तरीके से निभाते थे। पर जब इनका निधन हुआ तो बहुत कम ही सितारे थे जो दुखी हुए थे और इनकी निधन में अपनी प्रतिक्रिया जताई थी।

अचला सचदेव

अचला सचदेव ने बॉलीवुड की कई फिल्मों में अपनी अदाकारी का जलवा दिखाया है। बॉलीवुड की सुपरहिट फिल्म ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे’ में अचला सचदेव ने काजोल की दादी का रोल निभाया था। लेकिन जब इस बेहतरीन अदाकारा की मृत्यु हुई तो वह काफी अकेली थी। अचला ने अपने अंतिम समय में बिल्कुल अकेली थी। उनकी मृत्यु अस्पताल में हुई था लेकिन उनके पार्थिव शरीर को उनके बच्चे लेने तक नहीं गए थे।

विमी

विमी बॉलीवुड की मशहूर अदाकारा थी। दर्शक इनके अभिनय को काफी पसंद करते थे। इन्होंने ‘हमराज’ और ‘अबरु’ जैसी फिल्मों में काम किया है। लेकिन पारिवारिक कलह और शराब की बुरी आदत ने उनके करियर को बिगाड़ कर रख दिया था। विमी का निधन सरकारी हस्पताल में हुआ था और उनके पार्थिव शरीर को एक ठेले गाड़ी पर रखकर श्मशान घाट पहुंचाया गया था।

इंद्र कुमार

इंद्र कुमार ने काफी कम उम्र में ही इस दुनिया को अलविदा कह दिया। इंद्र कुमार ने ‘वांटेड’ ‘खिलाड़ियों का खिलाड़ी’ और ‘मासूम’ जैसी कई फिल्मों में काम किया है। लेकिन इंद्र कुमार ने किसी वजह से अपनी जान ले ली उन्होंने सुसाइड कर लिया था। पर जब इस बेहतरीन कलाकार का अंतिम संस्कार वहां तब वहां केवल 4 लोग मौजूद थे।

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: