अरुण गोविल जी को कुछ इस तरीके से मिला था राम का किरदार

अरुण गोविल जी का नाम सुनते ही हमारे दिमाग में उनकी श्रीराम वाली छवि उभर कर सामने आ जाती है। और आए भी क्यों ना उन्होंने उस धारावाहिक में कितनी कमाल की एक्टिंग की थी। उसे भूलना किसी के लिए संभव नहीं है उनकी वह हमेशा के लिए लोगों के लिए यादगार बन कर रह चुकी है, लेकिन आपको जानकर काफी ज्यादा हैरानी होगी कि उन्हें वह रोल रामानंद सागर नहीं देना चाहते थे।

अरुण गोविल ने की थी का भी कमाल की एक्टिंग

अरुण गोविल रामायण धारावाहिक में श्री राम का किरदार निभाया था। उनकी एक्टिंग काफी ज्यादा कमाल की रही थी। जिसे लोगों ने काफी ज्यादा पसंद किया और आज भी उस धारावाहिक का रीटेलीकास्ट देखना लोग काफी ज्यादा पसंद करते हैं। अरुण जी की एक्टिंग भी काफी कमाल की रहा करती है। उन्होंने कई सारी फिल्मों में भी काम किया लेकिन उन्हें फिल्मों में कुछ सफलता नहीं मिल पाई।

अरुण गोविल जी को कुछ इस तरीके से मिला था राम का किरदार

रामानंद सागर के पास गए थे रोल मांगने

अरुण गोविल जी के बारे में अगर बात की जाए तो वह रामानंद सागर जी के पास धारावाहिक में रोल मांगने गए थे। दरअसल बात करें उस दिन की घटना के बारे में तो रामानंद सागर जी के बारे में अरुण जी को पता लगा कि वह रामायण पर काम कर रहे हैं और इस पर एक धारावाहिक बनाने जा रहे हैं। जिसके बाद उन्होंने उनसे मुलाकात की और बताया कि वह श्रीराम किरदार निभाना चाहते हैं। जिसके बाद रामानंद सागर जी ने उन्हें वहीं पर रोल देने से इनकार कर दिया।

अरुण गोविल जी को कुछ इस तरीके से मिला था राम का किरदार

बाद में हुआ कुछ ऐसा

रामानंद सागर जी ने अरुण गोविल को रोल देने से साफ इनकार कर दिया, लेकिन इसके बाद कुछ ऐसा हुआ जिससे किसी को कोई उम्मीद नहीं थी। अरुण गोविल जी इस बारे में बात करते हुए कहते हैं कि श्रीराम के रोल के लिए किसी और को कास्ट कर लिया गया था, लेकिन ऐन मौके पर कुछ ऐसा हुआ कि रामानंद सागर जी ने इन्हें फोन करके कहा कि कमेटी उन्हें राम का किरदार देना चाहती है।

अरुण गोविल जी को कुछ इस तरीके से मिला था राम का किरदार

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: